Friday, December 25, 2009

aakanksha और shubhkaamnayein.

काफी दिनों के baad  यह पोस्ट बेज प् रहा हूँ. पिछले दिनों बनारस यात्रा के दौरान बनारस हिन्दू वि.वि. की पहली  vigyan patrika प्राप्त हुई जिसमें मेरा एक लेख - " आतंकवाद की चुनौतियाँ और साहित्य' चयनित और प्रकाशित हुआ था. इसे इस पोस्ट के साथ आत्ताच कर रहा हूँ. आशा है इसके कुछ विचारों से कहीं-न- कहीं आप भी सहमत होंगे.
 
आज पुनः फिएल्ड जा रहा हूँ, लगभग २ महीनों के लिए. इन्टरनेट के अपने स्टार पर यथासंभव असहयोग के बावजूद यह पोस्ट करने और इसी के साथ आप sabhi ko krismas और nav varsh की shubhkaamnayein dene ka pryas कर रहा हूँ.
hardik shubhkaamnayein.

4 comments:

Arvind Mishra said...

इस लेख के लिए बधाई और क्रिसमस तथा नववर्ष आपको भी बहुत शुभ हो !

राज भाटिय़ा said...

नये बर्ष की आप को भी शुभकामनाये

Udan Tashtari said...

छपने के लिए बधाई.

क्रिसमस एवं नव वर्ष की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ.

सादर

समीर लाल

Arvind Mishra said...

इस अच्छे लेख के लिए बधाई

वीडियो - "झूला झूले से बिहारी.....'

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...