Monday, November 9, 2009

सूर्योदय के प्रदेश का सूर्योदय



जब तक यह पोस्ट आपके सामने होगी मैं पुनः फिल्ड में होऊंगा. साइबर कैफे पर निर्भरता ने पिछले फिल्ड वर्क की तस्वीरें तो आपतक पहुँचाने में बाधा जरुर डालीं, मगर वापस लौट इस कमी को पूरा करने का प्रयास जरुर करूँगा.
इस पोस्ट के साथ हैं मेरी फोटोग्राफी जीवन की कुछ अत्यंत कठिन तस्वीरों में से एक- 'अरुणाचल का सूर्योदय'. सूर्योदय के प्रदेश में इस दृश्य को कैमरे में कैद करना कितना मुश्किल है यह मैं ही जानता हूँ. यहाँ आने के एक महीने बाद सूर्य को पकड़ सका और ये छवियाँ कैद कर आप तक पहुंचा रहा हूँ. अगली मुलाकात तक नए सूर्योदय और नई शुरुआत की कामना के साथ-

7 comments:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

बहुत सुन्दर दृश्य हैं।

zeashan zaidi said...

बहुत खूबसूरत दृश्य

नीरज जाट जी said...

मैंने तो सोचा था कि सारे अरुणाचल में पहाड़ ही पहाड़ हैं, लेकिन यहाँ तो पहाड़ ही गायब हैं.

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ said...

आपके बहाने से हमने भी देखा।
ऐसे ही सक्रियता बनाए रखें, अच्छा लगता है।
------------------
और अब दो स्क्रीन वाले लैपटॉप।
एक आसान सी पहेली-बूझ सकें तो बूझें।

नीरज गोस्वामी said...

नयना भिराम चित्र...मजा आ गया...वाह
नीरज

राज भाटिय़ा said...

वाह क्या बात है, बहुत सुंदर.
धन्यवाद

रचना दीक्षित said...

इतनी सुंदर छवियाँ क़ैद करने और हम तक पहुँचाने के लिए आभार

वीडियो - "झूला झूले से बिहारी.....'

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...